Patna Airport लाया गया 'बिहार के शेर' शहीद रमेश रंजन का पार्थिव शरीर

February 6, 2020
जिलाटॉप
,
0

PATNA: कश्मीर में आ'तंकियों से लोहा लेने वाले बिहार के शेर श'हीद रमेश रंजन का पार्थि'व शरीर आज सुबह पटना एयरपोर्ट लाया गया. जहां श'हीद को सलामी देने के बाद श्रद्धांजलि दी गई. उसके बाद उनका पार्थि'व शरीर भोजपुर जिला के देव टोला गांव के लिए रवाना कर दिया गया, जहां आज उनका राजकीय सम्मान के साथ अंति'म संस्कार किया जाएगा.

दरसल देव टोला के मठिया निवासी राधा मोहन सिंह के 4 पुत्रों व एक पुत्री में सबसे छोटा पुत्र रमेश रंजन थे. उनकी शुरुआती पढ़ाई आरा शहर के डीएवी स्कूल से हुई थी. वहां से इंटरमीडियट करने के बाद आरा में ही उन्होंने हर प्रसाद दास जैन कॉलेज में स्नातक की पढ़ाई किया.रमेश की शादी वर्ष 2016 में बड़हरा प्रखंड में जयलाल के डेरा गांव निवासी विजय राय की पुत्री बेबी राय के साथ काफी धूमधाम से हुई थी.



शहीद रमेश रंजन ने वर्ष 2011 में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल ज्वॉइन किया था और उनकी पहली पोस्टिंग संबलपुर उड़ीसा में हुई थी, फिर इसके बाद उनकी पोस्टिंग जम्मू कश्मीर में हो गई थी. ऐसे में बुधवार को श्रीनगर-बारमुला हाइवे पर लावेपोरो इलाके में आतं'कवादियों के साथ मुठभेड़ में सीआरपीएफ के 73वीं बटालियन के जवान रमेश रंजन श'हीद हो गए. जिसके बाद शही'द जवान के साथी ने रमेश की श'हादत की सूचना रिटायर्ड सब इंस्पेक्टर पिता राधा मोहन सिंह को मोबाइल पर दी. रमेश के दोस्तों ने ही पिता को बताया कि सीआरपीएफ जवान रमेश ने तीनों आतं'कवादियों के पास हथियार देखे जाने के बाद पहले एक आतं'कवादी को मार गिराया. इसके बाद दूसरे आतं'कवादी ने शॉल में छिपाकर रखे हथि'यार से उसे पीछे से गो'ली मा'र दी.

उधर रमेश की श'हादत की खबर मिलते ही देव टोला में कोहराम मच गया. सगे-सबंधियों की भीड़ जमा हो गई. सबकी आंखें नम थीं. लेकिन सीआरपीएफ जवान ने जिस तरह देश के दुश्मनों से लोहा लिया उससे वे उस पर नाज कर रहे थे. छोटे बेटे की शहा'दात की सूचना मिलते ही पिता की आंखे भर आईं. रमेश के पिता ने बताया कि मुझे अपने श'हीद बेटे पर गर्व है. मेरा पूरा परिवार सेना में है. श'हीद के पिता ने कहा कि सरकार श्रीनगर में ऐसा काम करे कि आतंकी जड़ से मिट जाएं और मेरे बेटे जैसा और किसी का बेटा शहीद न हो.



रमेश की श'हादात पर उनके परिजनों को फख्र है. देश के दुश्मनों से लोहा लेते श'हीद हुए रमेश पर भोजपुर स्थित उसके पैतृक गांव देव टोला के ग्रामीण गौरवांवित महसूस कर रहे हैं. ग्रामीणों को अपने सपूत के पार्थि'व शरीर के आने का इंतजार है.

आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर में जवान रमेश रंजन के शहीद होने पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शो'क संवेदना व्यक्त की है. सीएम ने कहा है कि उनकी श'हादत को देश हमेशा याद रखेगा. वे इस घटना से काफी मर्मा'हत हैं. मुख्यमंत्री ने वीर सपूत की शहादत पर उनके परिजनों को दुख की इस घड़ी में धैर्य धारण करने की शक्ति प्रदान करने की ईश्वर से प्रार्थना की है. मुख्यमंत्री ने कहा है कि शहीद जवान का राज्य सरकार की तरफ से पुलिस सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जायेगा.

Hey, like this? Why not share it with a buddy?

Related Posts

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here