वाह रे बिहार सरकार! पुलिसवाले से उठक-बैठक कराने वाले अधिकारी को दंडित करने के बजाय दिया प्रमोशन

April 26, 2020
जिलाटॉप
, ,
0

Patna: देश में लागू लॉकडाउन के दौरान ड्यूटी पर तैनात होमगार्ड जवान से उठक-बैठक कराने और बदसलूकी करने वाले बिहार सरकार के एक अधिकारी को सरकार ने दंडित करने के बजाय प्रमोशन दे दिया है. पूरा मामला अररिया के जिला कृषि पदाधिकारी मनोज कुमार से जुड़ा है, जो होमगार्ड जवान के साथ किए गए दुर्व्यवहार को लेकर सुर्खियों में आए थे.

मामला सोशल मीडिया के माध्यम से वायरल होने के बाद सरकार ने आनन-फानन में जांच के आदेश दिए थे, लेकिन जांच के नाम पर कुछ खास नहीं हुआ. बिहार सरकार ने इस अधिकारी को स्थानांतरण के साथ ही पदोन्नति का उपहार दे दिया. एक पुलिसवाले के साथ गलत व्यवहार करने वाले इस अधिकारी पर कार्रवाई करने की बजाय सरकार की मेहरबानी और प्रमोशन मिलने से सवाल उठने लगे हैं.

बिहार सरकार द्वारा जारी अधिसूचना के मुताबिक, जिला कृषि पदाधिकारी (अररिया) मनोज कुमार का स्थानांतरण उपनिदेशक (प्रशिक्षण कार्यालय) अपर कृषि निदेशक प्रसार पटना में किया गया है. अररिया में हुई इस घटना के बाद मामले ने तूल पकड़ा था, तो खुद विभाग के मुखिया यानी कृषि मंत्री ने भी जांच के आदेश दिए थे. उन्‍होंने 24 घंटे के अंदर कार्रवाई की बात कही थी, लेकिन जो हुआ वो सबके सामने है.

पुलिसवाले ने सरकारी अधिकारी से जांच ...

बिहार के पुलिस मुखिया डीजीपी ने भी अपने विभाग के एक साथी सिपाही के साथ हुई इस घटना पर गहरी नाराजगी जताई थी. मनोज कुमार अररिया में जिला कृषि पदाधिकारी के पद पर कार्यरत थे, लेकिन वहां से उनका प्रमोशन करते हुए सीधे उपनिदेशक यानी डिप्टी डायरेक्टर बनाकर पटना भेज दिया गया है.

इस मामले में अररिया के कृषि पदाधिकारी के खिलाफ ऑन ड्यूटी जवान के साथ मिसबिहेव करने को लेकर अररिया थाना में एफआईआर दर्ज किया गया है. बिहार पुलिस के एडीजी मुख्यालय जितेंद्र कुमार ने बताया कि अररिया का ये मामला सोशल मीडिया के माध्यम से काफी वायरल हुआ था. इसी प्रकरण में डीजीपी द्वारा वहां मौजूद एक एएसआई गोविंद सिंह को सस्पेंड भी किया गया था.

Hey, like this? Why not share it with a buddy?

Related Posts

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here