बिहार में बाढ़ कि तबाही और कोरोना के कहर में भी सो रहे हैं नितीश – मोहम्मद महताब आलम

August 7, 2020
सियासत
, , , , , , , , ,
0

Patna : राष्ट्रीय जनता दल के नेता मोहम्मद महताब आलम ने विज्ञप्ति जारी करके प्रदेश सरकार और मुख्यमंत्री नितीश कुमार पर जमकर निशाना साधा है। अपनी इस विज्ञप्ति में उन्होंने बिहार सरकार को हर मोर्चे पर फेल बताया । साथ ही उन्होंने ये दावा किया कि आगामी विधानसभा चुनावों में बिहार की जनता प्रदेश को जदयू और भाजपा के गठबंधन वाले कुशासन से मुक्ति दिलाएगी। अपनी विज्ञप्ति में उन्होंने कहा कि बिहार में 15 वर्षों के नितीश के शासन में बदहाली का अंधेरा छा गया है, ऐसे में राष्ट्रीय जनता दल की जीत से ही उस अंधेरे से मुक्ति मिलेगी, ताकि इस कुशासन के चक्र को खत्म करके बिहार को प्रगति की राह दिखाई जाए ।

अपनी विज्ञप्ति में राजद नेता महताब आलम ने कहा – बिहार इन दिनों बाढ़ की भयावहता झेल रहा है, कई ज़िले इस समस्या से झूझ रहे हैं। लाखों लोग बेघर और बेरोज़गार हुए हैं, लोगों के पास खाने के लिए दाना और रहने के लिए मकान नहीं बचा है। लोग भूख से तड़पते हुए सुरक्षित गंतव्य की तलाश में निकल रहे हैं। हालात ये हैं, कि गरदन तक पानी में डूब कर, अपनी जान को जोखिम में डालकर लोग बाढ़ग्रस्त क्षेत्र से बाहर जा रहे हैं।
मोहम्मद महताब आलम ने कहा- कि बाढ़ की इस आपदा को कंट्रोल किया जा सकता था, यदि समय रहते तटबंधों की मरम्मत की जाती, बिहार में तो बाढ़ की समस्या हमेशा से रही है। तो क्या पिछले 15 वर्षों से नितीश कुमार जो सत्ता में हैं, उनका ध्यान नए तटबंध निर्माण और पुरानों की मरम्मत की ओर नहीं गया। क्या बाढ़ की इस समस्या से निपटने के लिए अन्य नए उपायों पर ध्यान नहीं दिया जाना चाहिए था।

राजद नेता मोहम्मद महताब आलम ने कोरोना की समस्या पर ध्यानाकर्षण करते हुए कहा- कि प्रदेश में कोरोना का संक्रमण अपने भयानक रूप ले रहा है। कई ज़िलों में सामुदायिक फैलाव की स्थिति निर्मित हो रही है। जब प्रदेश में कोरोना की शुरुआत हुई तो, तब ही से covid 19 से लड़ने में सरकार का रवैय्या बेहद ढीला रहा है। इसी का नतीजा है, कि प्रदेश में संक्रमण थमने का नाम नही ले रहा है। बल्कि इस समय ये बेहद ही आक्रमकता के साथ पूरे प्रदेश को अपनी चपेट में लिया हुआ है।
अस्पतालों में सही समय में Covid 19 टेस्ट का न होना, अस्पतालों में मरीज़ों को भर्ती न करना आम बात बन चुकी है। कई ऐसे केस सामने या चुके हैं, जिनमें साफ साफ सरकार और प्रशासन की लापरवाही सामने आई है। अस्पतालों के हालात का अंदाज़ा इसी से लगाया जा सकता है, कि बारिश के बाद अस्पतालों के अंदर पानी भरने की तस्वीर भी सामने आई है।

अंत में राजद नेता मोहम्मद महताब आलम ने कहा कि प्रदेश सरकार पूरी तरह फेल साबित हो चुकी, कुर्सी कुमार को अपनी कुर्सी से प्यार है, प्रदेश की जनता से कोई लेना देना नहीं। नितीश के राज में बिहार बदहाली के अंधकार में डूब चुका है। अब समय या गया है, कि बिहार को इस अंधकार से मुक्त कराने की तरफ़ बढ़ा जाए और नितीश कुमार व भाजपा को सत्ता से बहार कर प्रदेश को नई राह दिखाई जाये ।

Hey, like this? Why not share it with a buddy?

Related Posts

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here