अब कोहरे के कारण न लेट होंगी ट्रेनें, न होगा एक्सीडेंट, खास डिवाइस तैयार

December 24, 2020
जिलाटॉप
, , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,
0

Desk: कोहरे की वजह से ट्रेन लेट ना हो इसके लिए रेलवे ने विशेष तैयारी की है. रेलवे की ओर से कुहासे में भी ट्रेनों के परिचालन को सामान्य बनाए रखने ट्रेनों को (FSD) फॉग सेफ्टी डिवाइस से लैस किया गया है. डीआरएम दानापुर सुनील कुमार ने बताया कि फॉग सेफ्टी डिवाइस मशीन से रेल चालक को यह मालूम हो जाता है कि आगे का सिग्नल कब आने वाला है या कौन सा स्टेशन आने वाला है.

दानपुर के डीआरएम सुनील कुमार ने बताया कि लगभग 250 ट्रेनों में एंटी फॉग डिवाइस मशीन दिया गया है, ये ट्रेन कोहरे से लेट ना हों. यह मशीन ट्रेन में लोको पायलट को आगे आने वाले सिग्नल और प्लेटफार्म की जानकारी स्क्रीन पर लिखकर दिखाएगी. इससे लोको पायलट के लिए अपनी ट्रेन पर समय रहते कंट्रोल करना आसान हो जाएगा. इस तकनीक से ट्रेन की लेटलतीफ की समस्या से यात्रियों को निजात मिलेगी. साथी ही कोहरे के कारण जो ट्रेन दुर्घटना होती थी उससे बचा भी जा सकेगा. डीआरएम ने कहा कि ठंड के मौसम में रेल पटरियों के चटकने की संभावना रहती है, इसके सुरक्षा के लिए पेट्रोलिंग मैन और ट्रैक मैन को जीपीएस सिस्टम दिया गया है.

रेलवे की इस पहल से यात्रियों को तो सुविधा होगी ही, साथ ही लोको पायलट भी इस मशीन को ट्रेन में लगाए जाने के बाद आने वाली समस्या से निजात पा लेंगे. उन्हें कुहासे के कारण आगे की स्थिति पता लगाने में दिक्कत नहीं होगी और वो सुरक्षित ट्रेन को प्लेटफॉर्म पर लगा सकेंगे.

लोको पायलट धनंजय कुमार ने बताया कि हमारे विभाग के द्वारा FSD डिवाइस मिलने से हम लोगों को बहुत सुविधा मिली है. यह मशीन सिग्नल को पहले ही लोकेट कर देता है कि अब यह स्टेशन आने वाला है. यह मशीन सिग्नल के साथ-साथ हॉल्ट गेट की जानकारी भी देता है. इससे ट्रेन को कंट्रोल करने में काफी मदद मिलती है. अब ट्रेन को लेट होने की संभावना कम रहेगी. लोको पायलट सुनील कुमार पासवान ने बताया कि पहले कोहरे से सिग्नल दिखाई नहीं देता था लेकिन रेलवे के द्वारा FSD मशीन मिलने से काफी सुविधा है. यह पहले ही सिग्नल को इंडिकेट कर देता है.

Hey, like this? Why not share it with a buddy?

Related Posts

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here