आगामी 29 नवंबर को जगदीशपुर में होगा शाहाबाद महोत्सव

October 12, 2020
Uncategorized
0

सासाराम: शाहाबाद महोत्सव 2020 आयोजन के लिए आज सासाराम स्थित रैप कार्यालय में एसपी वर्मा के अध्यक्षता में बैठक हुई। बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि आगामी 29 नवंबर को वीर कुंवर सिंह के ऐतिहासिक धरती पर शाहाबाद महोत्सव 2020 का आयोजन किया जाएगा।

•जगदीशपुर ही क्यों चुना गया आयोजन के लिए

शाहाबाद महोत्सव आयोजन समिति के अध्यक्ष अखिलेश कुमार ने बताया जगदीशपुर का भारतीय आज़ादी के आंदोलन में बहुत महत्वपूर्ण योगदान रहा है।1857 के विद्रोह में अग्रणी भूमिका में रहें वीर कुंवर सिंह का जन्म और कर्मस्थली रहा है जगदीशपुर। बता दें कि 1958 में नधई ग्राम के युद्ध में वीर कुंवर सिंह ने डगलस की अंग्रेजी सेना के दाँत खट्टे कर उन्हें पराजित किया। बाबुसाहेब का एक और चर्चित प्रसंग है जिसमे शिवपुर घाट पार करते वक्त अंग्रेजों की गोली उनके दाहिने हाथ में लगी,गोली का ज़हर उनके शरीर मे न फैल जाए इसके लिए उन्होंने तलवार से अपने हाथ को काट कर गंगा में प्रवाहित कर दिया। इसके बाद जब वीर कुँवर सिंह जगदीशपुर पहुँचे तो कैप्टन ले ग्रैंड नेतृत्व में ब्रिटिश फौज़ ने वहाँ आक्रमण किया, जिसका सामना बाबुसाहेब ने बहादुरी से कर अंग्रेज़ो को परास्त किया।

•क्या उद्देश्य है शाहाबाद महोत्सव का

बैठक की अध्यक्षता कर रहे एस.पी वर्मा ने बताया कि इस महोत्सव से शाहाबाद क्षेत्र के ऐतिहासिक धरोहर, पर्यटन स्थल, खाद्य सामग्री, कला एवं संस्कृति इत्यादि को बढ़ावा मिलेगा।वही गोपाल नारायण सिंह विश्वविद्यालय के सचिव गोविंद नारायण ने बताया कि शाहाबाद क्षेत्र के खाद्य पदार्थ,कला,गीत-संगीत और पर्यटन जैसे बेतरी के चावल, चेन्नारी के लड्डू, बराव का सिंघाड़ा,बक्सर का पपड़ी, क्वाथ का बेलग्रामी,भित्ति चित्र, कोहबर, शिवनरैनी के गीत, धोबिया-धोबिनिया के नाच, शेरगढ़ किला, रोहतासगढ़ किला, यक्षणी भवानी इत्यादि को वैश्विक ख्याति प्राप्त होगा।

इस बैठक में स्यंदन सुमन, अशोक कुमार, लव जी, बंटी सिंह, शैलेश कुमार, छोटेलाल सिंह, मनीष कुमार मौर्य, मनीराज, विनीत प्रकाश, मयंक उपाध्याय, आदि उपस्थित थे।

Hey, like this? Why not share it with a buddy?

Related Posts

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here